अगले कुछ वर्षो में ब्रिटेन की धरती से होगा अंतरिक्ष प्रक्षेपण

लंदन, 5 मार्च (आईएएनएस)। ब्रिटेन ने शुक्रवार को कहा कि कमर्शियल स्पेसफ्लाइट टेक्नोलॉजी – पारंपरिक रॉकेट, अत्यधिक ऊंचाई वाले गुब्बारे और स्पेसप्लेन – को विकसित करने की दिशा में इसने एक लंबी छलांग लगाई है। इसने संभावना जताई है कि अगले कुछ वर्षो में ब्रिटेन की धरती से भी अंतरिक्ष प्रक्षेपण होगा।

सरकार ने अपनी व्यावसायिक स्पेसफ्लाइट के संबंध में विवरण प्रकाशित करते हुए इस आशय की घोषणा की। पिछले कुछ महीनों से सरकार उद्योग, हितधारकों और जनता को आमंत्रित कर रही है कि वे उन नियमों पर अपनी बात रखें जो देश के स्पेसफ्लाइट प्रोग्राम को संचालित करेंगे। उम्मीद की जा रही है कि प्रभावकारी कानून से व्यावसायिक स्पेसफ्लाइट प्रौद्योगिकियों के विकास को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी।

सरकार ने कहा कि दक्षिण-पश्चिम इंग्लैंड, स्कॉटलैंड और वेल्स में स्पेसपोर्ट्स भी बनाए जा सकते हैं।

ब्रिटेन के विज्ञान मंत्री अमांडा सोलोवे ने एक बयान में कहा कि ब्रिटेन का अंतरिक्ष क्षेत्र संपन्न हो रहा है, और देश के हर कोने में अंतरिक्ष क्षमताओं का निर्माण करते हुए छोटे उपग्रहों को लॉन्च करने वाला यूरोप का पहला देश बनने की हमारी महत्वाकांक्षा है।

उन्होंने कहा कि हमारे अंतरिक्ष उद्योग, नियामकों और सरकार के साथ काम करते हुए हम एक आधुनिक, सुरक्षित और लचीले नियामक ढांचे का विकास करेंगे जो ब्रिटेन में स्थायी वाणिज्यिक स्पेसफ्लाइट के नए युग की शुरुआत करेंगे।

ब्रिटेन की सरकार और उद्योग ने 2030 तक ब्रिटेन के वैश्विक अंतरिक्ष बाजार में हिस्सेदारी को 10 प्रतिशत तक बढ़ाने का लक्ष्य रखा है।

सरकार ने पहले ही यूके के स्पेसपोर्ट से वाणिज्यिक ऊध्र्वाधर और क्षैतिज छोटे उपग्रह लॉन्च करने के लिए लगभग 40 मिलियन पाउंड का कुल अनुदान दिया है।

यूके स्पेसफ्लाइट योजनाएं 14.8 बिलियन पाउंड के उद्योग में उच्च-कुशल नौकरियां पैदा करेंगी।

–आईएएनएस

एसआरएस/एएनएम

You might also like

Comments are closed.